नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है ओंकार और मेरी वेबसाइट OKTECHGALAXY.COM पर आपका फिर से एक बार स्वागत है । पिछले पोस्ट में हमने वेबसाइट का नाम किस तरह से बदले इसके बारे में काफी विस्तार से जानकारी ली है ।

वेबसाइट डोमेन बदलने के बाद वेबसाइट और सोशल मीडिया पर सेटिंग करने पड़ते है तो वो Seo setting kaise kare? अगर आपने अभी तक अपनी वेबसाइट का नाम नहीं बदला है या फिर बदलना चाहते हो तो थोड़ा रुक जाइए ।

क्योंकि यह पोस्ट आप सभी के लिए या फिर जो लोग वेबसाइट का नाम बदलना चाहते हैं, उन लोगों के लिए काफी जरूरी और महत्वपूर्ण होगा । क्योंकि वेबसाइट का नाम बदलने का मतलब यह नहीं होता है कि एक सिंपल प्रोसेस है या साधारण काम है ।

अगर अपनी वेबसाइट पर काफी अच्छे से पोस्ट लिख लेते हो या फिर फुल टाइम ब्लॉगर बनना चाहते हो तो यह पोस्ट पूरा और सावधानी से जरूर पढ़ें । मैं आपको बताऊंगा कि किसी भी एक वेबसाइट का नाम बदलने से उस वेबसाइट के पोस्ट पर आपको क्या कुछ दोबारा सेटिंग करने पड़ते हैं। या फिर इसके वेबसाइट रैंकिंग पर क्या फर्क पड़ता है ।

तो दोस्तों चलिए सबसे पहले बता देता हूं कि इस पोस्ट में हम 3 पॉइंट पर बात करेंगे और इस पोस्ट से आपको क्या कुछ नया इंटरेस्टिंग और यूज़फुल जानने को मिलेगा इसके पॉइंट भी बता देता हूं , और उन पॉइंट पर हम विस्तार से जानकारी लेंगे ।

◆ वेबसाइट डोमेन बदलने से पोस्ट मैं क्या सेटिंग चेंज करे?

◆ वेबसाइट डोमेन बदलने के बाद वेबसाइट में क्या सेटिंग चेंज करे?

◆ वेबसाइट डोमेन बदलने से सोशल मीडिया पर क्या चेंज करे?

◆ वेबसाइट डोमेन चेंज करने से वेबसाइट रैंकिंग घटती है या नहीं ?

website ka naam change, website ka naam change karne ke baad kya kare, Damain badalne se website ranking ghatati hai ya nahi, Blog seo kaise kare, SEO Setting kaise kare, Website seo setting kaise kare, Blog seo setting, Website domain badalne ke baad, डोमेन बदलने के बाद क्या करे, डोमेन बदलने से पोस्ट मैं क्या सेटिंग करे.
वेबसाइट डोमेन बदलने के बाद वेबसाइट में क्या सेटिंग करे? How to do SEO setting of blog website?
Trending and Useful
> OG Whatsapp क्या है? OG के फायदे, नुकसान
> मोबाइल फोटो को लोकेशन कैसे ऐड करें?
> इनविजिबल पैनल क्या होते है? उसके फायदे?
> मोड एप प्ले स्टोअर पर कौन अपलोड कर सकता है?
> वेबसाइट के अलग-अलग फॉर्म कैसे बनाएं?
सभी विषय show

वेबसाइट डोमेन बदलने से पोस्ट मैं क्या सेटिंग करने पड़ते हैं?

 दोस्तो आपने अपने वेबसाईट का नाम बदल लिया है या फिर बदलना चाहते हो तो वेबसाइट का नाम बदलने से पहले आपको यह जानना जरूरी है कि, नाम बदलने के बाद अपनी वेबसाइट पर क्या कुछ सेटिंग करने पड़ते हैं और उसके लिए कितना समय लग सकता है । तो दोस्तों चले शुरू करते हैं और हर एक पॉइंट को नजर में लेते हुए पूरी जानकारी लेते ।

वेबसाइट के सारे लिंक चेंज करना

 दोस्तों अगर आप ब्लॉगर पर काम कर रहे हो तो आपको अपने वेबसाइट के पोस्ट में से हर एक लिंक को को हटाना होगा या फिर चेंज करना होगा और यह इसलिए क्योंकि अगर आप अपनी वेबसाइट का नाम बदलते हो तो अपने वेबसाइट का डोमेन नेम भी चेंज होता है ।

यानी कि अगर कोई व्यक्ति आपकी वेबसाइट पर विजिट करके मेन पेज ओपन करता है तो वह उसके लिए ओपन हो जाएगा । क्योंकि उस मेन पेज का डोमेन नेम पहले से चेंज हो चुका है ।

पर अगर आपने पोस्ट के अंदर कुछ लिंक को ऐड किए हैं तो वह तो पहले जैसे ही रहेगी। और उस पर अगर विजिटर्स क्लिक करता है तो वह दूसरी पोस्ट तक या आर्टिकल तक नहीं पहुंच पाएगा और इससे आपका ट्रैफिक घटने के कई ज्यादा चांसेस होते हैं ।

इसलिए अगर आप अपना ट्रैफिक कम करना नहीं चाहते हो तो नाम बदलने के बाद अपनी सारी पोस्ट का लिंक को आपको चेंज करना होगा । इसमें आपको जो भी पुरानी पोस्ट लिंक है वह हटाकर नई डोमेन नेम लिंक ऐड करनी होगी । इसके लिए कम से कम 300 पोस्ट के लिए 5 से 6 दिन का समय लग सकता है ।

पोस्ट के थंबनेल में चेंज करना होगा

 दोस्तों अगर आप भी मेरी तरह वेबसाइट के थंबनेल में वेबसाइट का टाइटल और वेबसाइट का नाम ऐड करते हो तो उससे कई इस तरह के फायदे यूजर के लिए होते हैं । जैसे की इमेज द्वारा आपकी वेबसाइट को सर्च करना या फिर इमेज स्कैनिंग द्वारा फोटो को सर्च करना जैसे काम से आपकी वेबसाइट ज्यादा सर्चेबल हो जाती है ।

आप भी अगर पोस्ट के थंबनेल में अपनी वेबसाइट का नाम और इमेज का नाम, पोस्ट के टाइटल के अनुसार रखते हो तो वह आपको वह चेंज करना पड़ेगा । यह किस तरह से चेंज किया जाता है यह मैं आपको बताता हूं ।

आपको जो पहले से पोस्ट के लिए अपलोड थंबनेल है वह डाउनलोड कर लेना है । उसे फाइल मैनेजर से या गैलरी से रिनेम करके नई वेबसाइट का नाम और टाइटल ऐड कर देना है और वह फोटो दोबारा से ब्लॉगर के पोस्ट में अपलोड कर देना है । इससे उस फोटो को एक नया नाम मिल जाएगा और नए टाइटल और उनके साथ वह फोटो ज्यादा से ज्यादा सर्चेबल हो जाएगा ।

वेलकम नोट भी चेंज करना होगा

दोस्तों अगर आप भी मेरी तरह अपनी वेबसाइट पर किसी पोस्ट में वेलकम नोट ऐड करते हो और उसमें अपनी वेबसाइट का नाम या कुछ लिंक ऐड कर देते हो तो वह लिंक भी आपको नए से ऐड करने होंगे ।

इसके लिए आप ब्लॉगर से यह काम आसानी से कर सकते हो ब्लॉगर में आपको डायरेक्ट एचटीएमएल एडिटर सेक्शन मिल जाता है जहां से वह लिंक आसानी से चेंज किए जा सकते हैं । आपको सिर्फ एक बार अपनी नई डोमेन लिंक कॉपी कर लेनी है और 10-12 टैब कंप्यूटर पर ओपन करके वह लिंक चेंज कर जाते जाना है ।

यानी कि सिर्फ कॉपी पेस्ट करके आप नई लिंक अपने ब्लॉगर पर पोस्ट में ऐड कर सकते हो । मैंने सिर्फ 3 दिनों में 200 से अधिक पोस्ट को ऐसे ही एडिट कर दिया है और नई लिंक अपने ब्लॉग पर पोस्ट में ऐड कर दी है ।

सारी की सारी लिंक चेंज कर देना

 दोस्तों आप सिर्फ इतना याद रखें कि आपने जितनी बार अपनी पोस्ट में पुराने लिंक का इस्तेमाल किया है वह आपको चेंज करनी ही है । फिर चाहे वह वेलकम नोट में दी गई लिंक हो , एक्स्ट्रा लिंक ऐड कर दी हो या फिर यूजर क्रेडिट के लिंक हो वह लिंक आपको चेंज करनी ही है ।

नहीं तो आपका पब्लिक या फिर वेबसाइट विजिटर नई लिंक या पोस्ट तक नहीं पहुंच पाएंगे और इससे आपका काफी सारा नुकसान हो जाएगा । तो आप सिर्फ इतना याद रखें कि आपको सारे के सारे लिंक चेंज करके नए डोमेन नेम से वह सेव कर देने हैं ।

वेबसाइट डोमेन बदलने पर वेबसाइट में क्या सेटिंग चेंज करे?

 फूटर क्रेडिट हटाना या चेंज करना

हर एक वेबसाइट के लिए फ़ुटर क्रेडिट में अपनी वेबसाइट का नाम तो जरूर होता है । अगर ऐसा ही नाम आपने अपनी वेबसाइट के लिए ऐड किया है जिसमें फुटर लिंक पर क्लिक करने के बाद यूजर होमपेज तक चला जाता है तो वह Footer Credit भी आपको चेंज करना होगा ।

यह काम आप ब्लॉगर में काफी आसान तरीके से कर सकते हो । इसके लिए आपको एचटीएमएल एडिट करके वहां से Footer Credit की लिंक चेंज करनी है और नई लिंक का ऐड कर देनी है ।

दोस्तो Footer Credit हर एक वेबसाइट के लिए काफी जरूरी होता है और अगर यह Footer Credit किसी दूसरी वेबसाइट का हो तो इससे पब्लिक को वह वेबसाइट काफी एडवांस नजर नहीं आती और उससे वेबसाइट पर Bad Effect भी पड़ता है ।

हमने पिछले पोस्ट में फ्री रेस्पॉन्सिव और बिना फुटर क्रेडिट के थीम कैसे डाउनलोड करें और अपलोड करें इसके बारे में काफी इंफॉर्मेशन ली है । आप चाहे तो ऊपर दी गई लिंक से वह पोस्ट भी पढ़ सकते हो ।

न्यू साइट मैप तैयार करके अपलोड करना

 दोस्तों अगर आप अपनी वेबसाइट का नाम बदल देते हो या न्यू डोमेन नेम खरीदते हो और उससे अपनी वेबसाइट को कनेक्ट करते हो तो गूगल आपकी आने वाली पोस्ट को ठीक तरह से रीड कर नहीं कर पाएगा या फिर इंटरनेट पर दिखा नहीं पाएगा ।

इसलिए आपको पुराना डोमेन नेम हटाना है और नया डोमेन नेम से वेबसाइट चलानी है, तो आपको पुराना साइड मैप हटाना होगा और नया साइड मैप तैयार करके अपने गूगल के सर्च कंसोल में अपलोड करना होगा ।

इससे गूगल को यह पता चल जाएगा कि आपके वेबसाइट के सारे लिंक और उसके डोमेन नेम चेंज हो चुके हैं और उसके हिसाब से ही गूगल अगली बार विजिटर को आपकी वेबसाइट के टाइटल के अनुसार यूजर को पोस्ट दिखाएगा ।

इसलिए अगर आप अपने वेबसाइट का नाम चेंज करते हो तो गूगल सर्च कंसोल में से पुराना साइटमैप हटाए और नया साइटमैप अपलोड कर दें । अगर यह काम किस तरह से किया जाता है यह आपको पता नहीं है तो ऊपर दी गई लिंक के द्वारा आप वह पोस्ट भी पढ़ सकते हो ।

ऐडसेंस की पुरानी वेबसाइट हटाकर नया डोमेन ऐड करना

 दोस्तों आपने पुरानी वेबसाइट पर या डोमेन पर गूगल ऐडसेंस द्वारा अप्रूव पा लिया है तो आप सही से पैसे कमा रहे हो । पर अगर आपने नया डोमेन नेम खरीदकर ऐडसेंस से कनेक्ट कर लिया है तो आप ठीक से पैसे नहीं कमा सकते हो ।

क्योंकि नया डोमिन खरीदने के बाद आपका पुराना सर्च कंसोल था या फिर एडसेंस सेटिंग थे या ब्लॉगर वेबसाइट के सेटिंग थे वह पूरी तरह से दोबारा सेट या कनेक्ट करने होंगे । पर अगर आप नई वेबसाइट गूगल ऐडसेंस में ऐड करते हो तो आपको कुछ 5 से 7 दिनों के लिए ऐड बंद करने होंगे यानी कि खुद गूगल यह काम करता है ।

यह इसलिए क्योंकि गूगल न्यू डोमेन लिंक ऐड शो करने के लिए वेबसाइट तैयार है या नहीं यह जानता है और इसके लिए ही गूगल आपकी वेबसाइट जांचने के लिए 7 दिनों का समय लेता है और उसके बाद आप की वेबसाइट पर ऐड रन कर देता है ।

इसमें आपकी पब्लिशर आईडी वही रहती है । पर 7 दिनों तक आप की वेबसाइट पर ऐड शो नहीं होते हैं । पर अगर आपने पुराना डोमेन हटाया है और नया डोमेन खरीदा है तो उसे गूगल ऐडसेंस से भी कनेक्ट करना होगा । अगर आपको नया डोमेन गूगल ऐडसेंस से किस तरह से कनेक्ट करते हैं यह पता नहीं है तो दी गई लिंक पर क्लिक कर सकते हो।

Custom Robot txt एक्सचेंज करना

 दोस्तो अपने वेबसाईट के लिए सेटिंग कर रहे हो तो आपको बता दू  Custom Robot txt फाईल आपकी वेबसाइट को काफी अच्छे समझने में और आपकी वेबसाइट पोस्ट गूगल सर्च में लाने में काफी सारी मदद करता है ।

अगर आप ने भी ऐसा Custom Robot txt अपनी ब्लॉगर वेबसाइट पर नहीं लगाया है तो वह जरूर लगाएं और जिन लोगों ने ऐसा Custom Robot txt अपनी वेबसाइट पर पहले से लगाया है और उन्होंने अपनी वेबसाइट का नाम चेंज किया है तो यह भी याद रखें कि आपको अपनी वेबसाइट का कस्टम रोबोट txt भी चेंज करना पड़ेगा ।

क्योंकि आपके पुराने वेबसाइट का नाम भी उस txt फाइल में पहले से ऐड होता है और नई डोमेन लिंक वेबसाइट के लिए ऐड करने के बाद वह लिंक भी आपको चेंज करनी होगी । वरना आपका Seo पूरी तरह से गलत हो जाएगा ।

अगर आप यह नहीं जानते हो कि Custom Robot txt क्या होता है और किस तरह से अपनी वेबसाइट पर ऐड करें तो हमने पिछला एक पोस्ट इस विषय पर पहले से पब्लिश कर दिया है । ऊपर दी गई लिंक पर क्लिक करके आप वह पोस्ट भी अधिक जानकारी के लिए पढ़ सकते हो ।

वेबसाइट डोमेन बदलने से सोशल मीडिया पर क्या चेंज करे?

 सोशल मीडिया के पोस्ट से लिंक चेंज करना

 दोस्तो आप सोशल मीडिया पर अपने वेबसाइट के पोस्ट के लिंक भी शेयर करते हो । ताकि आपको काफी अच्छा सोशल मीडिया से पब्लिक मिल जाए । पर अगर आप अपनी वेबसाइट का नाम बदलते हो और उस डोमेन नेम को वेबसाइट से कनेक्ट करते हो, तो आपको वह पुराने लिंक भी हटाने होंगे या फिर एडिट करके दोबारा से वही नई वाली लिंक उस पोस्ट में ऐड करनी होगी ।

जिससे आपका पब्लिक सही पोस्ट तक आ जाएगा और मेरे ख्याल से फेसबुक, टेलीग्राम, पिंटरेस्ट के साथ-साथ टि्वटर भी आपको पोस्ट एडिट करने का ऑप्शन दे देता है । तो आप अपने वेबसाइट का नाम बदलते हो तो आपको वह सोशल मीडिया की पोस्ट भी तुरंत एडिट करनी है । नहीं तो आपकी वेबसाइट की रैंकिंग और कमाई भी काफी घट जाएगी ।

शुरू में आप किसी भी एक सोशल मीडिया अकाउंट को चुन सकते हो और उनकी लिंक चेंज करना शुरू कर सकते हो या फिर सभी सोशल मीडिया अकाउंट को अलग-अलग टैब में ओपन करके भी वह नई लिंक पोस्ट में पेस्ट कर सकते हो ।

हैशटैग को हटाना या चेंज करना होगा

 दोस्तो आप सोशल मीडिया अकाउंट पर अगर कोई पोस्ट जो की वेबसाइट लिंक के द्वारा शेयर की गई हो उसमें हैशटैग का इस्तेमाल भी करते हो । तो वह हैशटैग भी आप को हटाने होंगे या उन्हें बदलना होगा ।

वैसे हैशटैग ना बदलने से आप की वेबसाइट पर इतना बुरा असर भी नहीं पड़ेगा पर अगर आप नई लिंक या नाम से वेबसाइट के पोस्ट नए हैशटैग के साथ शेयर करते हो तो इससे पुराने पोस्ट के हैशटैग लोगों को सर्च नहीं आएंगे या फिर काफी कम बार वह फ्हैशटैग सर्च होंगे ।

इसलिए आप चाहे तो सोशल मीडिया के पोस्ट से हैशटैग को भी बदल सकते हो अगर मेरा सुझाव मानो तो हैशटैग को भी पोस्ट लिंक बदलते वक्त ही बदल से । इससे आपका टाइम भी बच जाएगा ।

वेबसाइट डोमेन चेंज करने से वेबसाइट रैंकिंग घटती है या नहीं ?

आज के इस पोस्ट का मेन मुद्दा या फिर पॉइंट यही है कि क्या वेबसाइट का नाम बदलने से या नया डोमेन नेम वेबसाइट से कनेक्ट करने से वेबसाइट की रैंकिंग घटती है या नहीं ? तो मैंने इस पर वेबसाइट का नाम बदलने से पहले पुराने ब्लॉगर या जिन्होंने अपनी वेबसाइट का नाम बदला है उनसे सुझाव ले लिया था कि क्या होता है ?

अगर वेबसाइट का नाम बदला जाए, तो उन्होंने कहा कि आप ऐडसेंस से हाथ धो बैठोगे या फिर रैंकिंग घट जाएगी । पर दोस्तों ऐसा नहीं होता है ऐडसेंस के लिए क्या कुछ रूल है वह मैंने ऊपर आपको बता दिया है ।

ऐडसेंस आपकी वेबसाइट को दोबारा से जांचने के लिए 7 दिनों का टाइम ले लेता है और उसके बाद ऐड शुरू हो जाते हैं । पर आपको एडसेंस से पुरानी वेबसाइट भी रिमूव करनी होगी और नया ऐड कोड एचटीएमएल में हेड के नीचे पोस्ट करना होगा । नहीं तो आपको गूगल एडसेंस से ऐड के लिए अप्रूवल मिलने के बाद भी वेबसाइट पर ऐड शो नहीं होंगे ।

अब अगर बात करें वेबसाइट की रैंकिंग घटने की तो जाहिर सी बात है कि, आपको सारे सेटिंग दोबारा से करने होंगे और पोस्ट में ऐड की गई लिंक को भी बदलना होगा क्योंकि अगर पब्लिक को नई पोस्ट तक जाने के लिए एक प्रॉपर लिंक ना मिल जाए ।

तो इससे आपकी वेबसाइट पर यूजर की ज्यादा एंट्री नहीं होगी और इससे आप ज्यादा पैसे भी नहीं कमा सकते । तो मेरा कहना यही है कि वेबसाइट का नाम बदलने से आपकी वेबसाइट की रैंकिंग घटती है ।

पर आप वह पुरानी रैंकिंग या पब्लिक विजिट दोबारा पा सकते हो । मैंने बताए हुए पॉइंट को देखते हुए अपनी वेबसाइट एडिट कर दे तो आप कम से कम 7 दिनों के अंदर पुरानी वेबसाइट कि तरह नई डोमेन नाम पर रैंकिंग दोबारा से पा सकते हो ।

दोस्तों इस पोस्ट में हमने जाना कि ” वेबसाइट डोमेन बदलने से पोस्ट और सोशल मीडिया पर क्या चेंज करे? डोमेन चेंज करने से वेबसाइट रैंकिंग घटती है या नहीं? How to do SEO setting of blog website?

तो दोस्तों यह आर्टिकल कैसा लगा COMMENT जरूर करें । अगर इस आर्टिकल से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो कृपया कमेंट बॉक्स में जरूर पूछे । ताकि आपके साथ और भी लोगों की परेशानी दूर हो । अगर आर्टिकल अच्छा लगे तो इसे अपनों में और आपके पसंदीदा सोशल मीडिया वेबसाइट पर SHARE जरूर करें । अन्य सोशल मीडिया साइट पर हमारे नोटिफिकेशन पाने के लिए कृपया हमें आपके पसंदीदा सोशल मीडिया साइट पर फॉलो भी करें ।

ताकि हमारा आने वाला कोई भी आर्टिकल आप मिस ना कर सको । हमें Facebook, Instagram,  Twitter, Pinterest और Telegram पर फॉलो करें । साथ में हमारी आनेवाली पोस्ट के ईमेल द्वारा Instant Notification के लिए FeedBurner को SUBSCRIBE करें ।


कोई भी महान व्यक्ति अवसरों की कमी के बारे में शिकायत नहीं करता | OKTECHGALAXY.COM / Motivation