Alien Earth पर कब, कैसे आएंगे? Alien Earth Ways

Alien kya hote hai, What is Alien in hindi, Alien earth par kaise aayenge, Alen dharti par kaise aayenge, Kya warm hole hota hai, Alien ka time travel sambhav hai, Alien dharti par kab aayenge, Alien earth par aane kw baad kya hoga, Alien vs humans, एलियन धरती पर कैसे आएंगे
0
(0)

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है ओंकार । मेरी वेबसाइट OKTECHGALAXY.COM पर आपका स्वागत है । दोस्तों पिछले पोस्ट में हमने एलियन धरती पर आ सकते है। या नहीं और आएंगे तो क्यों आएंगे इसके बारे में बात किया था वह पोस्ट काफी बड़ा हो गया था और अरे ब्लॉगर को पता है। कि ज्यादा बढ़ा पेज तरह से वर्क नहीं कर पाता है।

इसलिए मैंने यह उसी पोस्ट का सेकंड पार्ट आपके लिए लाया है। इस पोस्ट में हम एलियन से ही रिलेटेड बात करेंगे पर थोड़े अलग हेडिंग और सब्जेक्ट के साथ ऐसे ही ज्यादा बड़े पेट के दो या तीन पाठ लेकर आता हूं अगर आपको मेरे वेबसाइट के किसी भी पोस्ट की जानकारी अधिक से अधिक चाहिए तो कमेंट करके जरूर बताएं हम ज्यादा से ज्यादा जानकारी आप तक पहुंचाने की कोशिश करेंग ।

तो हमने जिस पोस्ट को जहां पर छोड़ा था वहीं से यह पोस्ट शुरू करते है। और बिना टाइम वेस्ट किया सीधा जानते है। कि एलियन धरती पर कब आएंगे

Alien kya hote hai, What is Alien in hindi, Alien earth par kaise aayenge, Alen dharti par kaise aayenge, Kya warm hole hota hai, Alien ka time travel sambhav hai, Alien dharti par kab aayenge, Alien earth par aane kw baad kya hoga, Alien vs humans, एलियन धरती पर कैसे आएंगे

एलियन धरती पर कैसे से आएंगे

दोस्तों एलियन पृथ्वी पर आने के लगभग 4 रास्ते हो सकते है। रिचा रास्ते हम जानेंगे मैं यहां पर वैज्ञानिकों की दृष्टि से नहीं सोच रहा हूं मैं एक ब्लॉगर के दृष्टि से सोच रहा हूं और हर एक ही सोचने की कल्पना अलग होती है। तो आपको इस बारे में क्या लगता है। मुझे कमेंट करके जरूर बताएं

अंतरिक्ष की खोज में निकल

दोस्तों जैसे कि एलियन के पास ऊर्जा का कौन सा भंडार है। वह हमें पता नहीं है। और उनके खान-पान या फिर दिन गुजारने के तरीके के बारे में भी हमें पता नहीं है। इसलिए एलियन अंतरिक्ष की खोज में निकलेंगे तो कई सालों का खाना या फिर उनके जरूरतों के हिसाब से ऊर्जा सोच लेंगे साथ में उनके पास सबसे बड़ा स्पेशल भी होगा ।

जहां पर एलियन एलियन एक साथ ला सके और कई सालों तक अंतरिक्ष की खोज करने निकले हो तो वह इतने सालों का ऊर्जा भंडार अपने साथ रखेंगे और ऐसे ही अंतरिक्ष की खोज में निकलते हुए अंतरिक्ष यात्री यानी एलियन हमारे यहां आ सकते है। । उन्हें वह यात्रा साधारण यात्रा यानी स्पेस ट्रैवल ही मानना होगा क्योंकि वह कुछ खोजने के लिए निकल रहे होंगे पर इसके अलावा कुछ अलग कारण हो तो

लाइट स्पीड ट्रैवल करके

तो दुनिया में सबसे ज्यादा स्पीड देखा जाए तो लाइट्स का स्पीड होता है। और प्रकाश को सूर्य से पृथ्वी तक आने में 499.0 सेकंड का समय लगता है।, यह दूरी 1 खगोलीय इकाई कहलाती है। स्पीड से एलियन ट्रेवल कर सकते है।

तो इसलिए क्योंकि हम इंसानों ने इतने सालों के रिसर्च के बाद सिर्फ चांद और मंगल की ही यात्रा सफल की है। और सूरज के अध्ययन के लिए यान भेजे है। इसके साथ-साथ गैलेक्सी में भी हमने सिर्फ सेटेलाइट ही भेजे है। और एलियन यहां तक आ रहे है। वह भी काफी यात्रा पार करके तो इसका मतलब यह होगा कि उनके पास सबसे हाई पावर इंजीनियर वाले स्पेसशिप या फिर लाइटस्पीड एंजिन भी हो सकते है।

वॉर्म हौल पार करके

दोस्तों वरम्होल एक शॉर्टकट रास्ता होता है। जो कि दूर की यात्रा को पास से ही पूरा कर देता है। वार माहौल के बारे में अधिक जानकारी हम आने वाले किसी पोस्ट में देखेंगे तो यह शॉर्टकट पार करना हम इंसानों के लिए फिलहाल तो मुश्किल है। इस तरह का वन होल हर स्पेस यात्रा में पूरा करते है। पर वह भी छोटे से हिस्से को यह ट्रैवल देखने के लिए तो हम सीधा रास्ता पार कर रहे है। ऐसा दिखता है।

पर हम कई शॉर्टकट स्पेस यात्रा में कर जाते है। अगर आपने स्पेस सेक्स का नाम सुना होगा तो यह भी कंपनी कई सारे इंस्ट्रूमेंट को मंगल पर ले जाने के लिए तैयार है। अगर यह सफल रहती है। तो पानी भी अंतरिक्ष के कुछ हिस्से को शॉर्टकट से ही पार करेगी तो इसी तरह अगर स्पेस में कई बार माहौल होगा और वह इंसानों से पहले एलियन ढूंढ लेते है। तो भी एलियन वरम्होल के रास्ते इंसानों तक पहुंच सकते ।

ब्लैक होल से रास्ते

दोस्तों ब्लैक होल में कुछ भी गिर जाए तो वह वापस नहीं आता ऐसे कहा जाता है। यहां तक कि प्रकाश भी ब्लैक होल में जाए तो वापस किसी भी रास्ते नहीं आ सकता इस वजह से इंसान ब्लैक होल से ट्रेवल करना पसंद नहीं करते है।

और दूसरी बात यह है। कि ब्लैक होल पृथ्वी से कई प्रकाश वर्ष दूर है। और इस कारण से ब्लैक होल से ट्रेवल करना काफी मुश्किल है। पर मेरा मानना है। कि इंसान ब्लैक होल से दूर है। पर ब्लैक होल का दूसरा भाग कहीं तो खुलता होगा और इस खुले भाग के नजदीक एलियन हो हो एलियन इस ब्लैक होल के रास्ते से हमेशा ही ड्राइवर कर सकते है।

अब जितनी ऊर्जा ब्लैक होल के अंदर जाते वक्त होती है। या फिर जितना गुरुत्वाकर्षण तन होता है। उतना उसके दूसरे भाग में होगा या नहीं इसके बारे में हमें पता नहीं होगा और अगर इतना गुरुत्वाकर्षण दूसरे भाग में ना हो तो एलियन जयपुर के रास्ते ट्रेवल कर सकते है। और पृथ्वी तक आ सकते है।

 Quitm realm

 दोस्तों वैज्ञानिकों का मानना यह भी है। कि एक छोटी सी सुई के आखरी टॉप जितनी किसी जगह में भी पूरा ब्रह्मांड समाया हुआ होगा एक माइक्रोन जितनी छोटी सी जगह से भी उसका दरवाजा खोल सकता है। और उसके आगे एक नया ब्रह्मांड ओपन हो सकता है। अगर ऐसी जगह मौजूद होगी तो वहां पर भी जीव जंतु इंसान या फिर एलियन कहे वह भी जीवित होंगे और इंसान इसीलिए बाहरी जीव को या वर्ग रहवासी को एलियन ही समझता है।

इसीलिए क्वांटम रियल में भी मौजूद होगा वह एलियन की कैटेगरी में ही आएगा और इस रास्ते से भी एलियन धरती तक आ सकते है। तो यह कुछ पांच रास्ते है। जहां से एलियन पृथ्वी तक आ सकते है। अगर अगर एलियन धरती तक आते है। तो क्या होगा इसके बारे में भी अब हम जानते है।

एलियन धरती पर कब आएंगे

दोस्तों एलियन धरती पर आते ही रहते है। पर कई सारे लोगों को इसके बारे में पता नहीं है। अब यह इसलिए क्योंकि कई सारे लोग इसके बारे में रिसर्च नहीं करते है। और अभी अभी तो 10 में से 9 लोगों ने इंटरनेट का सही इस्तेमाल करना सीखा है। और इस वजह से कई सारी जानकारियां लोग पा रहे है।

पहले जब ज्यादा इंटरनेट नहीं इस्तेमाल होता था यानी कि लॉकडाउन से पहले ही समझ लीजिए तब कई सारी अफवाहें लोगों के मन में वैसी की वैसी दबी रहती थी पर आज इंटरनेट का इस्तेमाल लोगों के लिए इंफॉर्मेशन इकट्ठा करने का मेन साधन बन गया है। अब इंफॉर्मेशन पाना लोगों का मकसद बन गया है। और इसी वजह से लोग ज्यादा जानकारी निकाल रहे है।

लोगों को पहले पिरामिड के बारे में भी पता नहीं था अगर था तो वह सिर्फ एक वस्तु है। ऐसा ही पता था पर कई सारे रिसर्च के बाद हमने पिरामिड को भी अंदर से जानने की कोशिश की तब जाकर पता चला कि पिरामिड में ऐसे ऐसे कंपार्टमेंट है। जो इंसानों द्वारा बनाना मुश्किल है।

पिरामिड 4600 साल पुराना एक कला का नमूना है। प्रेम में कई सारे मशीनरी लगने का दावा है। पर कितना सही है। वह दैनिक ही जानते होंगे पर पिरामिड का उदाहरण ले लीजिए या फिर कैलाश पर्वत का उदाहरण ले लीजिए उसने कई सारे राज छुपे है। और एक राज यह भी है। कि वहां पर एलियन होने का दावा हर वक्त किया जाता है।

साथ में एरिया फिफ्टी सेवन जो कि एक मिलिट्री बेस है। वहां पर भी कई बार एलियन देखे जाने का दावा कर रहा है। और जैसे कि हर देश के अपने कुछ राज होते है। इसलिए कोई भी देश कुछ राज दुनिया के साथ उजागर नहीं करता है। ऐसे में अमेरिका भी कई सारे राज अपने आप में दबा के रखा है। इसी वजह से एरिया फिफ्टी सेवन के भीमराज दुनिया से बाहर नहीं जाते ।

दोस्तों इनविजिबल टेक्नोलॉजी एक आने वाला कल है। जिसके बारे में मैंने अपने पोस्ट में बताया है। एलियन के पास इनविजिबल होने वाली टेक्नोलॉजी होगी तो एलियन हमारे आस पास होंगे तो भी हमें पता नहीं चलेगा और क्या पता एलियन अभी भी पृथ्वी पर मौजूद हो यह काफी राज की बातें होती है। इसलिए इसके बारे में ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं होती है।

एलियन धरती पर आने के बाद क्या होगा

दोस्तों वैसे तो इस पॉइंट पर ज्यादा बताना मतलब पुरानी बातें ही आपको बताने जैसा होगा तो यहां पर मैं ज्यादा इंफॉर्मेशन नहीं दूंगा पर पुराने पोस्ट के कुछ पॉइंट यहां पर ऐड कर देता हूं जैसे कि इंसानी सभ्यताओं को सीखना इंसानी उर्जा सूरत पता करना या फिर उर्जा सोर्स को हथियाना जैसे काम एलियन कर सकते है।

मिलिट्री पावर परमाणु पावर को अपना बनाना इंसानों को बंदी बनाना या फिर नौकर बनाना साथ में के कोर से उर्जा लेना सूरज से खुर्जा लेना जैसे काम भी एलियन कर सकते है। एलियन धरती पर आने के बाद क्या होगा इसका पूरा जानकारी दिए गए लिंक से आप आज भी जान सकते हो।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *