Call Forwarding क्या है? कॉल फॉरवर्ड कैसे करें?

Call Forward, Call forwarding, Call forwarding kya hoti hai, What id Call forwarding, Call forwarding kya hai, v kaise kaam karta hai, How to unable Call forwarding, Call forwarding kaise shuru kare, How starts Call forwarding, Call forwarding kaise band kare, कॉल फॉरवर्डिंग क्या है, कॉल फॉरवर्डिंग कैसे अनेबल करें,
0
(0)

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है ओंकार । मेरी वेबसाइट OKTECHGALAXY.COM पर आपका स्वागत है । दोस्तों और कॉल फॉरवर्डिंग कैसे करें यह काफी लोगों को पता नहीं होता है। यह फीचर क्या होता है। इसके बारे में काफी कम लोग जानते है।

तो इससे डिटेल आज का यह पूरा आर्टिकल आपके लिए लेकर आया हूं दोस्तों कॉल फॉरवर्डिंग करना मतलब उसे एक कॉल से दूसरे कॉल तक भेजना होता है। इतना तो आप इस टीचर के हेडिंग से समझ गए होंगे और यही काम इस पिक्चर का होता है। कि एक कॉल को आपके रिक्वेस्ट के अनुसार दूसरे कॉल पर भेजना कोई और किस तरह से किया जाता है। इसके अधिक जानकारी में आज आपको दूंगा

इस पोस्ट में आपको नया इंटरेस्टिंग और यूज़फुल जानने को मिलेगा कि कॉल फॉरवर्डिंग क्या होता है।? कॉल फॉरवर्डिंग कब शुरू हुआ? कॉल फॉरवर्डिंग कैसे अनेबल और बंद करें?

Call Forward, Call forwarding, Call forwarding kya hoti hai, What id Call forwarding, Call forwarding kya hai, v kaise kaam karta hai, How to unable Call forwarding, Call forwarding kaise shuru kare, How starts Call forwarding, Call forwarding kaise band kare, कॉल फॉरवर्डिंग क्या है, कॉल फॉरवर्डिंग कैसे अनेबल करें,

कॉल फॉरवर्डिंग क्या होता है?

दोस्तों यह फीचर हर एक स्मार्टफोन में मौजूद होता है। और काफी जरूरी फीचर्स में से एक होता है। इस पिक्चर के नाम के अनुसार ही यह काम करता है। मतलब की एक आने वाली कॉल को किसी दूसरे फोन में ट्रांसफर करना यही कॉल फॉरवर्डिंग होता है।

आज की टेक्नोलॉजी काफी बदल गई है। और यह फीचर भी काफी विकसित होता जा रहा है। । पहले पुराने डिवाइस में कॉल फॉरवर्ड होने के लिए काफी सारा वक्त लग जाता था पर आज ऐसा नहीं है। यह फीचर काफी एडवांस तरीके से सामने आ रहा है।

कॉल ट्रांसफर और कॉल फॉरवर्डिंग में ज्यादा फर्क नहीं होता है। कॉल ट्रांसफर तब किया जाता है। जब आप अपनी इच्छा से जहां कॉल ट्रांसफर करना चाहते हो वह करते हो और फॉरवर्ड इन मैं आपको एक ही बार सेटिंग करना होता है। और अपने आप कॉल फॉरवर्ड होने लगता है।

कॉल फॉरवर्डिंग कब शुरू हुआ

दोस्तों कॉल फॉरवर्डिंग या फीचर शुरुआती स्मार्टफोन में नहीं था ना ही छोटे बटन वाले फोन में था यह वंशी और 2जी के बीच में जो समय था तब यह फीचर्स फोन में ऐड किया गया उसके बाद इसमें काफी सारे बदलाव हुए कई सारे अपडेट्स टीचर के लिए हुए थे

दोस्त हो कॉल फॉरवर्डिंग और कॉल डायवर्ट या दोनों शब्दा आपने कई सारे स्मार्टफोन में देखे होंगे तो यह दोनों फीचर एक ही होते है। पर अलग-अलग कंपनियां फीचर्स को अलग-अलग नाम दे देती है। इस वजह से काफी कंफ्यूजन हो जाता है। पर यह दोनों फीचर्स एक ही होते है।

तो अब यहां पर सवाल यह है। कि आप कौन-कौन से कॉल को फॉरवर्ड कर सकते हो या डाइवर्ट कर सकते हो तो मैं आपको बता दूं जो भी कॉल सेल्यूलर नेटवर्क से आते है। वही आप मुझे फॉरवर्ड कर सकते हो बाकी व्हाट्सएप फेसबुक टेलीग्राम ही मोजे से कॉल आप फॉरवर्ड नहीं कर सकते हो क्योंकि वह एक ऐप है। और ऐप पर फिलहाल तो ऐसे कोई पिक्चर नहीं है। कि आप कॉल फॉरवर्ड कर सको ।

कॉल फॉरवर्डिंग कैसे काम करता है?

दोस्तों जब भी आप कॉल फॉरवर्डिंग यह फीचर अपने स्मार्टफोन में अनेबल करते हो तो आपको एक एडिशनल नंबर कॉल फॉरवर्डिंग के लिए ऐड करना होता है। और जो भी नंबर आप सिलेक्ट करते हो वह नंबर पर आने वाली सभी कॉल फॉरवर्ड यानी कि डाइवर्ट हो जाती है। पर यहां पर काफी सारे फीचर्स होते है।

मान लीजिए फोन स्विच ऑफ है या फिर आप उसे नजरअंदाज करते हो फोन को काट देते हो तो भी उस समय यह कॉल फॉरवर्डिंग अलग अलग तरीके से काम करता है। इसके लिए आपको सेटिंग में ही इस तरह से कॉल फॉरवर्ड होना है। यह लगाना होता है। और आने वाली कॉल सिलेक्ट की हुई नंबर पर फॉरवर्ड हो जाती है।

कॉल फॉरवर्डिंग कैसे अनेबल करें

दोस्तों इस पिक्चर्स को आने वाली आने की शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले अपने फोन या कॉलिंग एरिया में इंटर होना है। अभी हां पर आपके स्मार्टफोन में दो ऑप्शन होते है। या फिर एक ऑप्शन भी होता है। क्योंकि कुछ फोन में डायरेक्ट ही कांटेक्ट ऑप्शन होता है।

और इसी कांटेक्ट ऑप्शन में डायल पैड भी होता है। और वहीं से आप कॉल करते हो पर कुछ फोन में यह दोनों ऑप्शन अलग-अलग होते है। मतलब कौन त्याग और कॉलिंग का पिक्चर अलग-अलग होते है। आपको किसी भी माध्यम से पोलिंग जानकी डायल पैड ओपन कर लेना है।

अब आपको अपने स्मार्टफोन किया उसी स्क्रीन पर लेफ्ट में या फिर राइट में ऊपर की ओर दो या तीन नोट्स देखने को मिलेंगे उस पर क्लिक कर दें मैं कुछ ऑप्शन आप देख सकते हो जिसमें से सेटिंग ऑप्शन पर आपको क्लिक कर देना है।

इसमें आपको कई सारे ऑप्शन देखने को मिलेंगे जो कि आपके कॉलिंग को बेहतर बनाते है। या फिर कॉलिंग को ठीक तरह से सेटिंग करने के लिए यह सेटिंग होते है। उसमें से आपको Carrier Call setting पर क्लिक करना है। अब इस ऑप्शन में भी आपको कई सारे ऑप्शन देखने को मिलते है। तो इस कॉल फॉरवर्डिंग के लिए क्या करना चाहिए इसके बारे में मैं आपको बता देता हूं

इस सेटिंग लिस्ट में से आपको कॉल फॉरवर्डिंग को क्लिक करना है। और उस सेटिंग को ओपन कर लेना है। नेक्स्ट स्क्रीन पर आपको यह पूछा जाएगा कि आपको सिम 1 या 2 पर आने वाले कॉल फॉरवर्ड करना है। उसके हिसाब से आपको सिम सिलेक्ट कर लेनी है। और आगे की सेटिंग तक पहुंचना है। आगे की स्क्रीन पर आपको कई सारे और भी ऑप्शन देखने को मिलते है।

अब आपको यहां पर आप जब कॉल काट रहे हो तब कॉल फॉरवर्ड करना है। बिजी होने पर कॉल फॉरवर्ड करना है। या सभी कॉल फॉरवर्ड करनी है। वह सिलेक्ट कर लेना है। अपने हिसाब से सिलेक्ट करने के बाद आगे की स्क्रीन पर आपको जिस नंबर पर वह सारे कॉल फॉरवर्ड होने चाहिए वह नंबर एंटर कर लेना है। और ऑन या फिर स्टार्ट ऑप्शन पर क्लिक करके फॉरवर्डिंग शुरू कर लेनी है।

कॉल फॉरवर्डिंग कैसे बंद करें?

10 तो कॉल फॉरवर्डिंग शुरू करना जितना आसान है। उतना ही आसान कॉल फॉरवर्ड को बंद करना है। इसके लिए जो स्टेप मैंने पहले बताएं वह भी फॉलो करने है। और लास्ट में आपको अपना नंबर जो है। वह हटा देना है। और कॉल फॉरवर्डिंग को ऑफ ऑप्शन क्लिक करके बंद कर देना है। इससे पहले जिस तरह से कॉल आप तक आया रही थी वही प्रोसेस दोबारा शुरू हो जाएगा

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *