नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है ओंकार और मेरी वेबसाइट OKTECHGALAXY.COM पर आपका फिर से एक बार स्वागत है। आज के इस पोस्ट में हम Window के एक महत्वपूर्ण सेटिंग के बारे में बात करेंगे। दोस्तों आज के पोस्ट का टाइटल पढ़कर आपको समझ आ गया होगा कि हम इस पोस्ट में किस विषय पर जानकारी लेंगे। Recycle Bin me File Add होने से कैसे रोके?

इस पोस्ट में हम देखेंगे कि Window में Recycle Bin क्या होता है और Recycle Bin से आप कौन-कौन से काम कर सकते हो। दरअसल यह ऑप्शन हर एक Window Device और पीसी के लिए होता ही है उसी तरह यह Recycle Bin ऑप्शन कंप्यूटर डिवाइस के साथ-साथ स्मार्टफोन में भी देखने को मिलता है। तो इसका इस्तेमाल किस तरह से किया जाता है। यह कई सारे लोगों को पता नहीं होता है।

इसीलिए हम इस टॉपिक पर भी इंफॉर्मेशन लेंगे। फिलहाल में इस पोस्ट में सिर्फ विंडोज के लिए रिसाइकल बिन किस तरह से इस्तेमाल किया जाता है इसकी जानकारी दूंगा और स्मार्टफोन में यह ट्रिक किस तरह से काम करती है यह जानने के लिए एक अलग सा आर्टिकल आप तक पहुंच जाऊंगा । क्योंकि दोनों पोस्ट के डिस्क्रिप्शन काफी बढ़ जाते है। तो चले जानते है कि किस तरह से विंडोज डिवाइस में रिसाइकल बिन काम करता है।

रीसायकल बिन क्या होता है? रिसाइकल बिन कैसे काम करता है? फाइल को रिसाइकल बिन में ऐड होने से कैसे रोके? रीसायकल बिन से डिलीट की गई फाइल को रिकवर कैसे करें?

Recycle bin hya hai, Recycle bin kya hota hai, What is Recycle bin, Recycle bin kaise kaam karta hai, Delete file Recycle bin me jaane se roke, Delete file Recycle bin me add hone se kaise roke, Delete file Recycle bin me add hone se roke, Recycle bin ke faayde,
रीसायकल बिन क्या होता है? Recycle Bin me File Add होने से कैसे रोके? What is Recycle bin?
Popular Or Famous Contents .
> COD:M CP Free कैसे पाये?
> वेबसाइट होस्टिंग से वेरीफाई?
> New Whatsapp Condition?
> होस्टिंगर से होस्टिंग कैसे खरीदें?
> Business बढ़ाने के आइडिया 5 कम्पनी?

रीसायकल बिन क्या होता है?

दोस्तों रीसायकल बिन ऑप्शन यह फीचर हर एक विंडो डिवाइस के लिए होता ही है और इसे आप Trash Folder भी कह सकते हो। डिलीट की गई सभी फाइल इसी फोल्डर में स्टोर हो जाती है और आप इन्हें समय रहते रिकवर भी कर सकते हो।

वह फाइल्स रिकवर करने का एक सीमित समय होता है या फिर जब कंप्यूटर का स्टोरेज पूरी तरह से भर जाए तो रीसायकल बिन की फाइलें ऑटोमेटिक डिलीट होने लगती है। अगर आपकी फाइल आपसे गलती से डिलीट हो जाती है या फिर आप किसी फाइल को खुद डिलीट करते हो तो ऐसी फाइल इसी रिसाइकल बिन फोल्डर में ऐड हो जाती है।

यह ऑप्शन आप विंडो के फाइल मैनेजर में देख सकते हो। इस फोल्डर का आइकन आपको कुछ डब्बे की तरह या फिर कचरा पेटी की तरह देखने को मिलता है। रीसायकल बिन ऑप्शन आपके विंडोज डिवाइस के फाइल मैनेजर के साथ साथ डायरेक्ट होम स्क्रीन में शॉर्टकट करके भी आप रख सकते हो।

ताकि कम से कम समय में रिसाइकल बिन से फाइल या तो डिलीट की जाए या फिर रिकवर की जाए। वैसे यह सेटिंग काफी फायदे का होता है हर एक यूजर के लिए। पर अगर बात करें इस फाइल मैनेजर के रिसाइकल बिन ऑप्शन की तो, यह सेटिंग आपको हर एक विंडो डिवाइस के लिए अलग-अलग स्टोरेज प्रदान करता है।

यानी कि हर एक विंडोज डिवाइस में आप अलग-अलग मात्रा में फाइलें रिसाइकल बिन में ऐड कर सकते हो और यह स्टोरेज लिमिट आप रीसायकल बिन के सेटिंग पर राइट क्लिक करके भी देख सकते हो।

रिसाइकल बिन कैसे काम करता है?

दोस्तों अगर आपके कंप्यूटर में जो कंप्यूटर विंडोज 7 से लेकर विंडो 10 तक काम करता हो उसमें आपको रिसाइकल बिन का आइकन देखने को मिलता है। पर आपकी वह फाइल रीसायकल बिन में तब होती है। जब आप किसी फाइल को उस फोल्डर में ऐड होने के लिए Allow करो या एक्सेस दोगे तब ही कोई फाइल उस फोल्डर में ऐड होगा।

इसके लिए आपको रीसायकल बिन का सेटिंग मैं जाकर सेटिंग को ऑन करना पड़ता है। तब जाकर कोई भी फाइल रिसाइकल बिन में ऐड हो जाती है। पर अगर आप चाहते हो कि आप की फाइल डिलीट करने के बाद परमानेंटली हमेशा के लिए डिलीट हो तो वह भी आसानी आप कर सकते हो क्योंकि इस काम के लिए भी रिसाइकल बिन में एक सेटिंग होता है । जिसे आपको शुरू करना होता है।

दोस्तों विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम OS है और इसमें आपको कई तरह के टूल्स और ऐप को माइग्रेशन करने का मौका और एक्सेस तो मिलता ही है। पर आप कौनसा विंडो ऑपरेटिंग सिस्टम इस्तेमाल करते हो उस पर निर्भर है कि आपको किस तरह के फीचर इस्तेमाल करने को मिलेंगे।

पर आपको हर एक विंडो सिस्टम पर सेम काम करने वाला डीवाइस मिलना मुश्किल है पर फिर भी कई मॉडल्स में ऐप, वर्जन, आइकन और सेटिंग में कुछ कमी ज्यादा हो सकती है। पर रिसाइकल बिन हर एक ऑपरेटिंग सिस्टम पर एक ही तरह का काम करता है। कि डिलीट फाइल को रिकवर करना औ रउसी फोल्डर में दोबारा से रिस्टोर करने का काम रीसायकल बिन करता है।

फाइल को रिसाइकल बिन में ऐड होने से कैसे रोके?

दोस्तों अगर आपको किसी फाइल को रिसाइकल बिन में ऐड होने से रोक लेना है। या आप चाहते हो कि कोई भी फाइल तुरंत डिलीट हो जाए और वह रिसाइकल बिन में ऐड ना हो तो उसके लिए विंडो के फाइल मैनेजर को ओपन कर लेना है। और रीसायकल बिन आइकन को राइट क्लिक कर लेना है।

इससे रीसायकल बिन के अन्य एक्स्ट्रा ऑप्शन या फीचर आपको देखने को मिलेंगे इसके बाद आपको सेटिंग में से Properties पर क्लिक कर देना है। उसने भी कई सेटिंग्स है तो आपको ON’T MOVE FILES TO THE RECYCLE BIN. Setting को सिलेक्ट कर लेना है।

इसके बाद आपकी डिलीट की हुई फाइल रिसाइकल बिन में ऐड नहीं होगी और आप किसी भी फाइल को एक बार में ही परमानेंटली डिलीट कर पाओगे। इसका फायदा यह होगा कि जब आपके कंप्यूटर में स्टोरेज फुल होने के बाद आप किसी भी फाइल को डिलीट करना चाहोगे तो वह परमानेंटली डिलीट हो जाएगी। और वही फाइल्स आपको रिसाइकल बिन से दोबारा डिलीट नहीं करनी पड़ेगी।

आपने एक बात नोटिस की हो तो आपको पता चल जाएगा कि रीसायकल बिन का भी एक स्टोरेज होता है। जैसे कि आपने कुछ 100 एमबी की फाइल डिलीट करके रिसाइकल बिन में ऐड की तो रिसाइकल बिन का भी स्टोरेज 100 एमबी तक भर जाता है। इसका मतलब यह हुआ कि कोई भी फाइल डिलीट करने के बाद उतना ही स्टोरेज रिसाइकल बिन लेगा और फाइल डिलीट करने का कोई ज्यादा असर आपके स्टोरेज लिमिट पर नहीं पड़ेगा।

इसलिए अगर काफी इंपोर्टेंट फाइल ना हो तो उसे रिसाइकल दिन से ही डिलीट करना सबसे बेहतर होता है। और इससे आपके कंप्यूटर का स्टोरेज काफी खाली हो जाता है। फाईल रिसाइकल बिन में ऐड होने के बाद भी उस फाइल का Cashe उसी विंडो में स्टोर होता है । इस वजह से फाइल रिकवर होने में ज्यादा वक्त नहीं लगता।

रीसायकल बिन से डिलीट की गई फाइल को रिकवर कैसे करें?

तो दोस्तों अगर आपके रिसाइकल बिन से कोई भी फाइल डिलीट हो गई या आपने रिसाइकल बिन से कोई भी फाइल परमानेंटली डिलीट कर दी तो आपके पास उस फाइल से रिलेटेड कोई भी जानकारी नहीं होती है और आप यह काम गलती से करते हो तो शायद आपको वह फाइल दोबारा से लेनी ही होती है। या रीकवर करनी होती है।

तो इसका कोई समाधान है या नहीं? तो मैं आपको बता दूं कि इसके लिए मैंने पहले से ही एक आर्टिकल लिखा है। जिसमें परमानेंट डिलीट फाइल को किस तरह से रिकवर किया जाता है। इसके बारे में जानकारी दी है।

तो उस प्रोसेस से अगर आपको फाइल रिकवर करनी है तो इससे होगा यह कि आपने अभी तक जितनी फाइल है कंप्यूटर से डिलीट की है वह सभी फाइलें दोबारा से कंप्यूटर में रिकवर हो जाएगी। पर फिलहाल अभी तक कोई ऐसी ट्रिक नहीं है।

जो एक चुनिंदा फाइल को रिकवर कर सके। अगर आप चाहते हो कि उस टॉपिक पर भी आने वाले कुछ दिनों में वेबसाइट पर आर्टिकल मौजूद हो तो कमेंट करके जरूर बताएं कि एक ही फाइल को टारगेट करके किस तरह से डिलीट फाइल रिकवर की जा सकती है।

दोस्तों इस पोस्ट में हमने जाना कि ” रीसायकल बिन क्या होता है? फाइल रिसाइकल बिन में किस तरह से ऐड होती है? फाइल को रिसाइकल बिन में ऐड होने से कैसे रोके?

तो दोस्तों यह आर्टिकल कैसा लगा COMMENT जरूर करें । अगर इस आर्टिकल से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो कृपया कमेंट बॉक्स में जरूर पूछे । ताकि आपके साथ और भी लोगों की परेशानी दूर हो । अगर आर्टिकल अच्छा लगे तो इसे अपनों में और आपके पसंदीदा सोशल मीडिया वेबसाइट पर SHARE जरूर करें । अन्य सोशल मीडिया साइट पर हमारे नोटिफिकेशन पाने के लिए कृपया हमें आपके पसंदीदा सोशल मीडिया साइट पर फॉलो भी करें ।

ताकि हमारा आने वाला कोई भी आर्टिकल आप मिस ना कर सको । हमें Facebook, Instagram, Twitter, Pinterest और Telegram पर फॉलो करें । साथ में हमारी आनेवाली पोस्ट के ईमेल द्वारा Instant Notification के लिए FeedBurner को SUBSCRIBE करें ।


आज कल लोग Call करना भूल जाते है लेकिन हिसाब लगाना नहीं भूलते | OKTECHGALAXY.COM / Motivation

Thank You, Thank You logo, Ty logo, Thank you very much,