नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है ओंकार । मेरी वेबसाइट OKTECHGALAXY.COM पर आपका स्वागत है । दोस्तों बायोडाटा क्या होता है। यह काफी सारे लोगों को पता है। जो लोग किसी एग्जाम के लिए या फिर जॉब के लिए कहीं पर अप्लाई करते है। तो बायोडाटा काम आता है। तो बायोडाटा कैसे बनाया जाता है। इसके प्रकार क्या है। यह मैं आपको बताऊंगा ।

बायोडाटा ज्यादातर जॉब के लिए अप्लाई करते वक्त कंपनी को सेंड किया जाता है। या फिर उस कार्यालय में भेजा जाता है। जहां पर आप काम करना चाहते हो और वहां पर आपके क्वालिफिकेशन से रिलेटेड कोई जवाब हो तो तो ऐसे में बायोडाटा बनाने के लिए आपको इसी मैं जाकर वहां से अपनी जानकारी फिल अप करके एक बायोडाटा बनाना पड़ता है। जहां पर इंटरनेट कैफे के ऑफिसर आप से 50 से ₹100 ले लेते है। तो वही पैसा अगर आप बचाना चाहते हो तो आपको मोबाइल में बायोडाटा बनाना आना जरूरी है। इसीलिए यह आर्टिकल जरूर पढ़ें

इस आर्टिकल में आप नया इंटरेस्टिंग और यूज़फुल जानोगे की  बायोडाटा क्या होता है? बायोडाटा के प्रकार कितने होते है? मोबाइल और कंप्यूटर में बायोडाटा कैसे बनाएं?

Biodata, Biodata kya hota hai, Biodata kya hote hai, Types of Biodata,Biodata ke prakaar, Biodata kaise banaye, How to make Biodata, Biodata ka use kaise kare, How to use Biodata, Biodata kaise banate hai, बायोडाटा के प्रकार, बायोडाटा क्या होता है,

बायोडाटा क्या होते है?

दोस्तों बायोडाटा ऑफ फार्मर इंफॉर्मेशन होती है। जिसमें आप अपनी इंफॉर्मेशन ऐड करते हो यह बायोडाटा ज्यादातर जो आपके लिए ही सेंड किए जाते है। इससे आपकी एजुकेशन हॉबीज और सैलरी से रिलेटेड इंफॉर्मेशन एक दूसरे को समझने में आसानी होती है। ।

ऐसे ना जो आप हो या फिर नोएडा का इस्तेमाल होता है। आप किसी भी बायोडाटा को व्यक्ति चरित्र या फिर शिक्षण योग्यता पत्र भी कह सकते हो साथ में बायोडाटा आपके काम के उपलब्धि का एक प्रमाण भी होता है। बायोडाटा कई प्रकार के होते है। जो कि कहा बायोडाटा भेज रहे हो इसके हिसाब से बदलते रहते है। बायोडाटा के प्रकार आज हम देखेंगे ।

बायोडाटा के प्रकार कितने है?

एजुकेशनल बायोडाटा

इस बायोडाटा ने आपका नाम आपका एड्रेस एजुकेशन कहा से कहा हुआ है। कितना हुआ है। और आपके क्या रैंकिंग रही इसके साथ-साथ आपके मार्च और आप कितनी सैलरी में काम करना चाहते हो वह एक बार डाटा में लिखा होता है।

इस बायोडाटा से आपका बायोडाटा हाथ में लेना है। या नहीं कंपनी का मालिक या ऑफिसर देखता है। इससे कंपनी ओनर को पता चलता है। कि व्यक्ति किसी पोस्ट के लायक है। या नहीं और उसे कौन से जवाब देनी चाहिए

मैरिज बायोडाटा

दोस्तों जब भी किसी लड़की और लड़के की शादी हो तो एक दूसरे को इंफॉर्मेशन भेजना जरूरी होता है। इससे दोनों के एजुकेशन या फिर फ्यूचर प्लान के बारे में पता चलता है। ऐसे ने जिसे लोग कुंडली कहते है। वही बायोडाटा होता है। पर कुंडली मिलाना और बायोडाटा देखना दोनों में फर्क है। जब भी कुंडली मिलाने की बात आती है।

तो ब्राह्मणों द्वारा दोनों कुंडली को देख कर उनके ग्रह और बाकी चीजों की जानकारी मिलती है। पर हमें देखना है। बायोडाटा तो बायोडाटा भी उसी तरह काम करता है। जैसे कि अब तक लड़के ने क्या किया और उसका एजुकेशन क्या है। वह आगे जाकर क्या करने वाला है। या फिर उसे जो आप इस तरह की है। यही देखा जाता है।

मेडिकल बायोडाटा

दोस्तों मेडिकल बायोडाटा में परमाणु होता है। कि आपका स्वास्थ्य एकदम ठीक है। और आपको कोई भी बड़ी बीमारी नहीं है। अगर आप आर्मी भर्ती का पुलिस भर्ती जैसे बसिया करते हो तो आपको मेडिकल सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ती है। और मेडिकल बायोडाटा में वही लिखा होता है।

फिर आप शारीरिक और मानसिक पीड़ा से दूर रहो और आपको ऐसा कोई भी बड़ा रोग नहीं है। यानी कि आप शरीर से और दिमाग से भी एकदम ठीक हो। अब अगर आप किसी बड़ी बीमारी से बाहर निकल चुके हो तो आपको अस्पताल से एक सर्टिफिकेट दिया जाता है।

यह बायोडाटा ही होता है। अगर आप या आपका मरीज आगे जाकर किसी बड़ी परेशानी ने या पुलिस कार्रवाई में फंस जाता है। तो यही बायोडाटा सर्टिफिकेट देकर काम हो जाता है।

पर्सनल बायोडाटा

नंबर पर बायोडाटा जैसा ही होता है। और यह बायोडाटा जॉब मैरिज के लिए आराम से चल जाता है। क्योंकि पर्सनल बायोडाटा में भी वही इंफॉर्मेशन होती है। जो कानपुर बायोडाटा में सेम ही मिलती है। इस बायोडाटा में आपका नाम एड्रेस कलर वेट हाइट आपके स्किल एजुकेशन और इमेज जैसी इंफॉर्मेशन होती है।

अगर आप अपने एजुकेशन से रिलेटेड जानकारी या सर्टिफिकेट लेकर घूमते हो तो आपको पर्सनल बायोडाटा का एक पेज अपने फाइल के सबसे ऊपरी पेज पर लगाना चाहिए इससे अगर वह फाइल कहीं खो जाती है। तो आपको दोबारा मिलने के पूरे चांस है।

मोबाइल से बायोडाटा कैसे बनाए

दोस्तों यहां पर मैं आपको बायोडाटा बनाने के कुछ 4 तारीख के बताऊंगा जो कि काफी यूज़फुल होंगे इसके लिए आपके पास छोटे-छोटे कुछ एप्लीकेशन होना जरूरी है। तो सबसे पहले आप पहला तरीका जान लीजिए इसमें आपको पिक्स आर्ट को यूज करना होगा

10th पिक्स आर्ट एप्लीकेशन को डाउनलोड और इंस्टॉल करें इंस्टॉल करने के बाद ओपन करें और कोई भी एक ब्लैंक भेज दीजिए यानी कि आपको पिक्स आर्ट पर सफेद बैकग्राउंड ऐड करना है। इसके बाद आपको सबसे पहले ऊपर राइट साइड में एक फोटो ऐड कर लेनी है। पिक्स आर्ट आपको फोटो और टेक्स्ट साथ में टेक्स्ट को कलर करने का भी मौका दे देता है।

साथ में कई सारे टेंप पीएनजी फॉरमैट मी इमेज लगाने का मौका देता है। तो आपको स्टेप बाय स्टेप अपना नेम एड्रेस जैसी चीजें उस फोटो में ऐड करनी है। खुद का फोटो अपलोड करने के बाद नीचे सिग्नेचर भी ऐड कर देना है। इसके लिए आप इंटरनेट से कोई भी एक बायोडाटा का सैंपल ले सकते हो और पिक्स आर्ट से भी बायोडाटा बना सकते हो

मैंने एक बार अपने कॉलेज का सब्जेक्ट टाइम टेबल भी पिक्स आर्ट से बनाया था जो कि काफी मजेदार बन चुका था इसमें मैंने कड़ी और तिरछी लाइने बनाकर उसमें सब्जेक्ट डेट टाइम भर दिया था जो कि देखने के लिए काफी इंटरेस्टिंग लग रहा था हर एक सब्जेक्ट को अलग-अलग कलर देख कर एक बढ़िया सा टाइम टेबल बनाया था उसी तरह आप ही बायोडाटा बना सकते हो

गूगल डॉक्स का इस्तेमाल करके बायोडाटा कैसे बनाएं

200 गूगल डॉक्स क्या है। और कैसे काम करता है। इसके बारे में हमने पिछले कुछ आर्टिकल्स में इंफॉर्मेशन ली है। तो आपको इतना तो पता चल गया है। कि गूगल डॉक्स डॉक्यूमेंट बनाने का एक एप्लीकेशन है। यह एप्लीकेशन android.app एप्पल और कंप्यूटर इन पर भी काम करता है।

इस पर आप बायोडाटा भी बना सकते हो पर डाटा बनाने के लिए आपको इस एप्लीकेशन को डाउनलोड और ओपन कर लेना है।  हब एप ओपन करने के बाद आपको 1 प्लस का आइकन राइट साइड में दिखाई देता है। उस पर क्लिक करके आपको चूज टेंप्लेट पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपको कुछ टेंपलेट की लिस्ट दिखाई देगी जहां पर कई सारे बायोडाटा और रिज्यूम बनाए हुए है।

आपको जो भी टेंप्लेट पसंद आए उस पर क्लिक कर दीजिए अब बताओ ओपन हो चुका है। तो आपको उससे ही एडिट करके अपने हिसाब से अपना बना लेना है। इसके लिए पेंसिल के आइकन पर क्लिक कर दे और जो भी बदलाव आपको उस डॉक्यूमेंट या डॉग बायोडाटा में करने है।

वह अपने हिसाब से करें आपको इस डॉक्यूमेंट पर फोटो टेक्स्ट को कलर देकर बायोडाटा बनाए और उस डॉक्यूमेंट फाइल को सेव करके रखे बाद में आप इस डॉक्यूमेंट का प्रिंट भी निकाल सकते हो या फिर इसे यूआरएल के जरिए किसी भी ब्राउज़र में ओपन कर सकते हो यह काफी आसान और सिंपल प्रोसेस है। जहां से आप बायोडाटा बना सकते हो

बायोडाटा मेकर से बायोडाटा कैसे बनाये?

दोस्तों प्ले स्टोर पर बायोडाटा बनाने के लिए भी काफी सारे एप्लीकेशन मौजूद है। जिसमें से अधिकतर बायोडाटा बनाने वाले एप्लीकेशन के नाम बायोडाटा में कर ही है। तो आपको बायोडेटा मेकर ऐप डाउनलोड कर लेना है।

अब इसमें फ्रंट पेज पर ही आपको किस तरह का बायोडाटा बनाना है। उस कैटेगरी के चार से पांच ऑप्शन मिल जाते है। और जो भी ऑप्शन आप से लेट करते हो उसके हिसाब से आपको इंफॉर्मेशन फील करनी होती है। सभी इंफॉर्मेशन फील करने के बाद आपको वह डॉक्यूमेंट डाउनलोड करना पड़ता है।

यह बायोडाटा अब किस फॉर्मेट में डाउनलोड होगा यह पूरी तरह से उस एप्लीकेशन प्रोग्रामिंग के अनुसार होता है। पर ज्यादातर बायोडाटा इमेज यानी जेपीजी फॉर्मेट में ही डाउनलोड होते है। क्योंकि यह फॉर्मेट यूज करने के लिए काफी आसान होता है।

कंप्यूटर में बायोडाटा कैसे बनाएं

दस्तावेज से तो कंप्यूटर से बायोडाटा बनाने के भी काफी सारे तरीके है। जैसे कि मैंने कहा गूगल डॉक्स से भी आफ बडौदा बना सकते हो तो यह तरीका भी आप कंप्यूटर में इस्तेमाल कर सकते हो इसके लिए आपको गूगल डॉक की वेबसाइट पर एंटर हो जाना है और अपना अकाउंट साइन इन कर लेना है।

उसके बाद आपको गूगल डॉक्स एप्लीकेशन के सारे फीचर्स अपने कंप्यूटर में इस्तेमाल करने को मिल जाएंगे पर अगर आप यह ट्रिक स्मार्टफोन में क्रोम ब्राउज़र ओपन करके करोगे तो आपको इसके लिए गूगल डॉक्स डाउनलोड करके वहां से डॉक्यूमेंट या बायोडाटा बनाना पड़ेगा