नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है ओंकार । मेरी वेबसाइट OKTECHGALAXY.COM पर आपका स्वागत है । दोस्तों एलियन शब्द आपने कहीं ना कहीं सुना ही होगा एलियन धरती पर आ सकते है। ऐसा भीकई वैज्ञानिकों का मानना है। क्योंकि इंसानों का अस्तित्व जिस तरह से है। उसी तरह एलियन का अस्तित्व होने के पूरे चांस वैज्ञानिक बताते है।

यहां तक कि एरिया फिफ्टी सेवन विषय में भी आपको एलियन आए हुए सुनने को मिला होगा तो एलियन धरती पर आने पर क्या होगा क्या एलियन हमारी सभ्यताओं को पूरी तरह नष्ट कर देगी या फिर क्या हो सकता है। इसके बारे में आज का पूरा आर्टिकल 1 आर्टिकल होने के साथ-साथ कुछ सही संभावनाएं भी है।

जो की पूरी तरह से सही साबित होगी तब सही साबित क्यों होगी यह कारण मैं आपको बता दूंगा क्योंकि मेरा मानना यह है। कि संभावनाओं में भी कई तरह से के कारण होते है। कि वो पूरी ही होंगी क्योंकि कई सारे कारण उस संभावनाओं को पूरा कर देते है। या सीधा पोस्ट की ओर बढ़ते है और देखते है कि एलियन पृथ्वी पर आने के बाद क्या होगा और क्यों होगा?

इस पोस्ट में आपको नया इंटरेस्टिंग और यूज़फुल जानने को मिलेगा कि क्या सच में एलियन धरती पर आएंगे? एलियन धरती पर क्यों आएंगे? इंसानों की वजह से एलियन को परेशानियां

Alien, Alien kya hote hai, What is Alien in hindi, Kya Alien earth par aayenge, Alien Earth pe kyu aayenge, Alien ko dharti se faayde, aliens benefit from earth, एलियंस को धरती से फायदा, एलियन क्या होता है, एलियन अर्थ पे क्यू आएंगे,

क्या एलियन धरती पर आएंगे?

दोस्तों जब भी इंसानों के दिमाग में एलियन के बारे में सवाल उठता है तो यही आता है कि धरती पर आएंगे या नहीं तो दोस्तों एलियन धरती पर जरूर आएंगे और यह पूरी तरह से सुनिश्चित है। कि एलियन आते ही रहते है। पर देखे किसी ने नहीं अब जिस तरह से हम किसी दूसरे ग्रहों की यात्राएं करते है। तो हम वहां पर किसी से लड़ने तो नहीं जाएंगे या फिर वहां कोई डांस तो हम जाकर करेंगे नहीं हम अपना रिसर्च पूरा करेंगे

और वहां से जानकारी इकट्ठा करके वापस अपने ग्रह पर आएंगे उसी तरह से एलियन जब धरती पर आते है। तो वह शुरुआती यात्राओं में ज्यादातर रिसर्च करने के लिए आते है। और रात के समय ही आते है। आपने कई फिल्मों में देखा होगा कि फिल्मों में एलियन रात के समय ही स्वीपर प्रकट होते है।

क्योंकि एलियन को फिलहाल सिर्फ पृथ्वी के बारे में जानना है। और रिसर्च करनी है। एरिया फिफ्टी सेवन जैसा एरिया आर्मी के व्यापार और चौपड़ से भरा हुआ होता है। और इसी वजह से वहां पर जाना पसंद करते है। क्यों उन्हें अगर वापस जाने में कोई तकलीफ होती है।

या फिर कोई अड़चन आती है। तो यहां से वह ज्यादातर हिलाता कंट्रोल कर सकते है। या फिर वापस लौटने का तरीका ढूंढ सकते है। तो यहां पर आपको समझ में आ गया कि एलियन पृथ्वी पर क्यों और कब आएंगे और आएंगे या नहीं

एलियन धरती पर क्यों आएंगे

दोस्तों कैरियर धरती पर आने का क्या कारण है। जो कि अलग-अलग सभ्यताओं के अनुसार अलग-अलग हो सकती है। पिछले पोस्ट में हमने एलियन क्या होते है। और उनके प्रकार जाने थे तो इस पोस्ट में हम एलियन धरती पर क्यों आएंगे इसके रीजन जानेंगे ऐसा माना जाता है। कि एलियन ज्यादातर उनके लिए रिसोर्सेज ढूंढने के लिए आते है।

पर यह बात कहां तक सच है। उसके बारे में मैं ज्यादा नहीं जानता हूं ईश्वर से हमारे यहां कम पड़ रहे है। इसका मतलब यह नहीं है। कि एलियन के किसी ग्रह पर हो रिसोर्सेज कम पड़ रहे है। हम खुद उर्जा के लिए नई टेक्नोलॉजी ढूंढ रहे है।

जो यहां पर है। ही नहीं तो एलियन ऊर्जा के लिए यहां कैसे आ सकते है। और आप भी गए तो यहां पर उन्हें क्या मिलेगा क्योंकि हम खुद डर किससे सारा कोयला खत्म कर रहे है। सारा इंधन खत्म कर रहे है। और पवन चक्की हो या फिर पानी से उर्जा बना रहे है। तो जाहिर सी बात है। कि वहां से तो वह इंधन नहीं लेंगे इंधन पर सीधा कब्जा कर देंगे ।

इंधन पर कब्जा

दोस्तों अब हम इंसान जिस तरह से पानी ढूंढ रही है। फिर आप ही helium-3 ढूंढ रहे है। यह इसलिए क्योंकि एक ऊर्जा का सही और बड़ा शोर से चाहिए पर एलियन पृथ्वी पर इंधन के लिए आते है। या फिर ऊर्जा के लिए आते है।

तो उन्हें किस ओर से यहां पर नहीं मिलेंगे हालांकि यहां पर इंधन के स्वर कितने है। कि हमें दूसरे ग्रहों पर निर्भर रहने की जरूरत ही नहीं है। जैसे कि हम एक बैटरी को ऊर्जा से चार्ज करते है। उसके लिए हमें सूरज पर निर्भर रहना पड़ता है।

तो वह एलियन हमसे सोलर पैनल तो नहीं चुरा पाएंगे पर और टेक्नोलॉजी साथ ले जाएंगे यह बात तब होगी जब इंसान और एलियन एक दूसरे से टेक्नोलॉजी बांट रहे हो पर अगर उन्हें उनके ग्रहों पर रहना ही पसंद नहीं है। तो और टेक्नोलॉजी नहीं उस टेक्नोलॉजी का शोर से चुरा लेंगे या हत्या लेंगे ।

पानी की खोज और कब्जा

दोस्तों पानी ढूंढने के लिए हम खुद इंसान दूसरे ग्रहों पर आज निर्भर रहने वाले है। क्यों क्योंकि इंसानों के लिए पीने के लिए पृथ्वी पर ही अच्छा पानी का शौक नहीं है। जितना पानी पीने लायक है। उतना पानी इंसान खुद बेवजह बर्बाद कर रहे है। और अगर धरती पर एलियन आते है।

तो वह पानी के लिए तो बिल्कुल नहीं आएंगे अब यहां पर यह सुनिश्चित नहीं है। कि एलियन को पानी पीते है। या नहीं क्योंकि एलियन खाना खाकर या ऊर्जा लेकर जीवित रहते है। इसके बारे में फिलहाल वैज्ञानिकों के पास भी कोई जवाब नहीं है। पर सेम इंसानी एनर्जी पर एलियन जीवित रहना सीख लेते है। या फिर सीखा हुआ हो तो शायद पाने के लिए लड़ाई इंसान और एलियन के बीच हो सकती है।

हथियारों पर कब्जा

दोस्तों आज हमारे पास यानी इंसानों के पास परमाणु बम जैसे बम मौजूद है। जो कि एक बटन से पूरे धरती को हिलाने की क्षमता रखते है। अगर देखा जाए तो ऐसी टेक्नोलॉजी या हथियार इस्तेमाल करना चाहेंगे क्योंकि यह सुपर पावर बनने का एक सबसे बड़ा और बेस्ट तरीका हर एक देश मांगता है। और इस टेक्नोलॉजी के बारे में एलियन को जरा भी भनक लगती है।

तो सीधा छोटी-छोटी हथियार छोड़कर परमाणु बम को ही अपना बेस्ट हथियार मानने लगेंगे टेक्नोलॉजी के बारे में उन्हें कितना पता होगा यह एरिया खुद जानते होंगे पर एलियन धरती पर अपने स्पेसशिप से आ सकते है। तो जाहिर सी बात है। कि उनके पास इंसानों से भी बेस्ट टेक्नोलॉजी शक्ति है।

पर जरा रुकिए क्योंकि परिहार समझना होगा कि एलियन कितने दूर से या फिर कितना प्रकाश वर्ष दूर से आया है। तो कौन से ग्रह से आया है। क्योंकि इस टाइम से हम यह सुनिश्चित कर पाएंगे कि वह एलियन जब अपने ग्रह से निकल रहे थे और कितने दो बार पृथ्वी पर आए है। और आज उनके तक मनुष्य क्या है। इससे हमें जरूर समझना होगा

धरती बेस बनाना

तो दोस्तों धरती पर एलियन रहने आएंगे या नहीं यह तो कोई नहीं जानता क्योंकि यहां पर रिसोर्सेज की भारी कमी पाई जा रही है। और इंसान जैसे जैसे बढ़ेंगे यह रिसोर्सेज और भी कम होंगे ऐसे में धरती पर बेस बनाना तो एलियन का पहला मकसद नहीं रहेगा और यही मकसद के साथ एलियन एलियन धरती पर आते है।

और यही उनका आखरी मकसद होगा तो इससे मानव जाति को काफी खतरे होंगे ऐसा इसलिए क्योंकि सरफेस की कमी के चलते एलियन और इंसान दोनों को आपस में काफी लड़ाई करनी पड़ेगी इसलिए हमें आज के बारे में ना सोचते हुए अपने कल के बारे में ज्यादा सोचना होगा ऐसा नहीं करते है। तो इंसानी सभ्यता अर्थ से मिट सकती है। या फिर इसका हरियाणा आपके कई वीडियो को भुगतना पड़ेगा ।

बड़े महा युद्ध की तैयारी

दोस्तों हम इंसान जाति धर्म या फिर राजतंत्र अपने प्रदेश के लिए लड़ते है। जिसे बिना जरूरत के लड़ रहे है। इसे हम तीसरा महायुद्ध कहते है। तीसरा महायुद्ध में काफी बड़े तबाही होने के चांसेस से जो कि परमाणु से जीतने के चांस है। इसलिए परमाणु ही ज्यादा चलेंगे पर तीसरे महायुद्ध को हम आपस में नहा लड़कर एलियन से लड़ेंगे ऐसा मेरा मानना है।

ऐसा क्यों महायुद्ध क्या एक अलग ही व्याख्या होती है। एक अलग ही स्टेज होता है। और प्रदेश के लिए तो हम काफी लड़ते आ रहे है। अब टेक्नोलॉजी के लिए लड़ना जरूरी है। आने वाले कुछ लड़ाईया काफी विचलित करेंगी इस धरती को और ऐसे में ही हम तीसरा महायुद्ध इंसानों से ना लड़ते हुए एलियन से लड़ने के पूरे चांस है ।

पसंदीदा मेटल की तलाश

10 तो इंसान कई सारे ग्रहों की यात्राएं कर रहा है। और वह इसलिए क्योंकि उन्हें पाने के सोर्स मिले इंसान किसी दूसरे ग्रहों पर इंसानी बस्ती बसा सके और हिलियम 3 का प्रयोग करके ऊर्जा बना उसी तरह से अगर इंसानों को कुछ अलग धातु मिलते है। जो कि सानू के लिए नए हो या फिर उनका इस्तेमाल आने वाले समय में कुछ अजीब हो सकता है।

तो इंसान जाहिर सी बात है। कि वह भी किसी दूसरे ग्रह से उठाकर लाए गा इसी तरह से एलियन को भी अपने पसंदीदा मेटल यहां से ले जाने से रोक नहीं सकते है। या फिर एलियन भी इसी को इकट्ठा करने के लिए पृथ्वी पर जाने की धरती पर आ सकते है।

इंसानों को गुलाम बनाना

दोस्तों ऐसे कुछ कारण तो बड़े नहीं हो सकते पर कुछ छोटे-छोटे कारणों की वजह से भी इंसानों को एलियन गुलाम बना सकते है। क्योंकि यहां पर इंसानों को ज्यादा जानकारी है। और अपने ग्रह को इंसान अपने हिसाब से डाल सकते है। कौन सा सोर्स किस काम के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

वह इंसानों को ही ज्यादा मालूम होगा ऐसे में अगर एलियन अर्थ पर आते है। तो वह फिजूल का टाइम रिसर्च करने के लिए ना लगाते हुए इंसानों से ही कई सारे काम करवा सकते है। साथ में यह बातें हो गई जब उन्हें यहां की सोर्सेस हथियाने हो पर अगर एलियन यहां पर से कमजोर होते है। तो क्या होगा इसके बारे में हम जानेंगे ।

इंसानों की वजह से एलियन को परेशानियां

दोस्तों इंसान हमेशा ही नई नई जानकारी इकट्ठा करने में उत्सुक रहता है। और इसी वजह से ही कई बार उसे वह काम करने पड़ते है। जो वह करना नहीं चाहता है। ऐसे में एलियन और इंसान दोनों को एक दूसरे के बारे में जानने की हमेशा ही एक अलग ही चाह होती है। और इसी चाह को पूरा करते हुए कई सारे वैज्ञानिक ढूंढना यार सर्च करना पसंद करते है।

अगर एलियन यहां पर आ भी जाते है। और कोई एलियन आप हमें मिल जाता है। तो सबसे पहले वह एलियन हमसे दोस्ती कर रहा है। या हमसे उलझने वाला है। इसके हिसाब से उसके साथ बर्ताव होंगे और अगर वो इंसान में सो एक राज होता है। या लड़ाई करता है। तो हमें भी उसके बदले लड़ाई करनी होगी पर इससे दोनों में से कोई एक तो मारा जाएगा ।

दोस्तों जब एलियन यहां पर आएंगे तो वह पूरा घर है। तो यहां पर नहीं लाएंगे कुछ 1020 या 50 एलियन का रिसेट करने आएंगे और इतने एलियन को काबू करना इंसानों के लिए आसान बात होगी क्योंकि इतने लोगों से या एलियन से लड़ना हमारे काबिलियत में है। और हम लोग कर भी सकते है। और ऐसा होता है। तो हमें एलियन पर रिसर्च करने का उन्हें स्कैन करने का उनकी टेक्नोलॉजी और ऊर्जा सौर से जानने का मौका मिलेगा

शिफ्ट डिजायर उठाना या हमारा बनाना

दोस्तों इंसान जितनी भी रिसर्च कर रहा है। वह ज्यादातर एलियन को समझने के बारे में है। और एलियन जाहिर सी बात है। हमसे अलग टेक्नोलॉजी ही इस्तेमाल करते होंगे और इसी का फायदा लेते हुए हम लाइट स्पीड पेट राइवल करने का तरीका भी ढूंढ रहे है।

ऐसे में अगर वही तकनीक एलियन इस्तेमाल करते होंगे तो हमें वह भी टेक्नोलॉजी अपनी बनाने में आसानी होगी और इसी वजह से हम एलियन टेक्नोलॉजी को या फिर उनके शिप डिजाइन को चुराने की भी कोशिश करेंगे अब लाइटस्पीड ट्रैवलिंग क्या होती है। इसके बारे में हम अलग से एक वीडियो या फिर आर्टिकल देखेंगे ।

प्रमाण के शार्टकट या आइडियाज ढूंढना

दोस्तों कई दिनों से वैज्ञानिक रामायण के ऐसे रास्ते ढूंढ रहे है। जहां से हम दूसरे ग्रह पर जाने के लिए एक शॉर्टकट यूज़ कर सके हर और वैज्ञानिकों का पूरा दावा है। कि ब्रह्मांड में ऐसे ऐसे शॉर्टकट मौजूद है। जो दूर की ट्रैवलिंग को एकदम सिंपल और छोटा बनाएंगे कट को वारमहौल कहते है।

अगर ऐसे शॉर्टकट एलियन ने भी पार किए हो तो उनकी लोकेशन हमें पाना भी पसंद होगा इससे कई लाख सालों की ट्रैवलिंग बस जाएगी और हमें नई गैलेक्सी की खोज करने का मौका मिलेगा कॉल के बारे में अधिक जानकारी आने वाले वीडियो में ले सकते हो ।